मुख्य-पृष्ट
वैवाहिक कार्यक्रम
वैवाहिक योजना
वैवाहिक आवश्यकता
वैवाहिक गीत
वैवाहिक स्रोत
वैवाहिक उपयोगी बातें
वैवाहिक हंसिकाएं
वैवाहिक डाऊनलोड
वैवाहिक समाचार
वैवाहिक रोचक रीति-रिवाज
वैवाहिक शब्दकोश
अन्य उपयोगी बातें
हमारी सेवाऐं
हमारे बारें में

वैवाहिक रोचक रीति-रिवाज

विवाह के बारे में कितनी ही बातें कही जाती हैं। अंत में यही नतीजा निकलता है कि चाहे इच्छा से की जाए या फिर अनिच्छा से, शादी एक ऐसा लड्डू है कि जो खाए वो पछताए और जो ना खाए वो भी पछताए..
सच तो यह है कि शादी की अगर कुछ यादगार बातें बरसों तक याद रहती हैं तो वे हैं- विवाह मंडप में हुई ढेरों रस्में और मजेदार खेल. भारत में होने वाली वैवाहिक रस्मों से हम सभी काफी हद तक परिचित हैं, लेकिन संसार के हर हिस्से में कुछ ऐसे ही प्यारे रीति-रिवाज निभाए जाते हैं.

जर्मनी : कुछ प्यारे वादे करो

जर्मनी में एक मजेदार खेल होता है सिंड्रेला. वैवाहिक समारोह में मौजूद सभी लडकियां अपनी एक-एक सैंडिल डांस फ्लोर के बीचोंबीच रखती हैं. लडकों को इकट्ठे आकर एक-एक सैंडिल को उठाना होता है. जिस लडकी की सैंडिल जिस लडके को मिलती है उन्हें साथ में नृत्य करना पडता है.
एक मजेदार खेल होता है गुब्बारों का. वधू के माता-पिता हर मेहमान को एक पोस्टकार्ड देते हैं. इसमें नवदंपती का पता लिखा होता है. पोस्टकार्ड के खाली हिस्से में मेहमानों को कुछ लिखना होता है. इसमें वे नवदंपती से कुछ वादे करते हैं. मसलन, हम आपकी गाडी साफ करेंगे, हम आपके कपडे धो देंगे, हम आपके लिए संडे का ब्रंच तैयार करेंगे… इसके बाद इन पोस्टका‌र्ड्स को गैस वाले गुब्बारे के साथ बांध कर आसमान में उडा दिया जाता है. ये छोटे-छोटे वादे सचमुच बाद में निभाए भी जाते हैं. एक और रोचक खेल में नवदंपती के दोस्त वधू को कहीं छिपा देते हैं. दूल्हे को अपनी वधू को ढूंढना पडता है. कुछ क्षेत्रों में दुलहन की सैंडिलों की नीलामी होती है. नीलामी बोलने वाला एक हैट लेकर चारों ओर दौडता है और लोग उसमें पैसा डालते हैं. अंत में दूल्हा वह पूरी राशि घर खर्च के लिए दुलहन को सौंप देता है.

चीन : दूल्हे की रैगिंग

भारत के कई हिस्सों में द्वार पर रोकने वाली रस्म चीन में भी है. यहां वधू की सहेलियां वर को द्वार पर रोकती हैं. इसके बाद वे कुछ सवाल वर से पूछती हैं, जिनका आशय यह होता है कि क्या वह सचमुच अपनी पत्नी को खुश रख सकेगा ? लाल रंग के लिफाफे में वर कुछ पैसे दुलहन की सहेलियों को देता है लेकिन वे अंत तक कोशिश करती हैं कि वर को जितनी देर तक हो सके, रोके रखें. एक और खेल होता है, जिसमें वर की आंखों पर पट्टी बांधी जाती है. सिर्फ सूंघ कर उसे अपनी वधू को पहचानना होता है. वह जिसे अपनी दुलहन समझता है, उसे किस करता है. इसके बाद उसकी आंखों से पट्टी हटाई जाती है. यदि वह सचमुच उसकी दुलहन है तो कोई बात नहीं, लेकिन यदि वह कोई और होती है तो वर का बहुत मजाक बनाया जाता है. आंखों पर पट्टी बांधे-बांधे ही वर-वधू दोनों को सामने लटकी हुई चेरी या अन्य कोई फल बिना हाथों का प्रयोग किए मुंह में डालना होता है. एक अन्य खेल में वर-वधू एक-दूसरे से मुहावरे या पहेलियां पूछते हैं और दूसरे को उसका सही जवाब देना होता है. गलत जवाब देने पर शादी में पधारे आगंतुक उन पर जुर्माना लगा देते हैं.

फ्रांस : बेस्वाद सूप पीना होगा

आमतौर पर भारत की ही तरह दो दिन तक चलने वाली फ्रेंच शादी में रात भर संगीतमय माहौल होता है. स्नैक्स, कॉफी, मीठी ब्रेड जैसी तमाम चीजें मेहमानों को परोसी जाती हैं. कुछ लोग इस संगीत-नृत्य से परे एक कमरे में का‌र्ड्स खेलते हैं. जिन, रमी या कोई दूसरे प्लेकार्ड नहीं, बल्कि टैरो का‌र्ड्स. यह अलग बात है कि इनसे भविष्य फल नहीं बांचा जाता. वर के घर में या जहां भी उन्हें नवजीवन की शुरुआत करनी होती है, वहां उनके दोस्त पहले से उन्हें परेशान करने के लिए बैठे होते हैं. उन्हें एक ही प्याले में फ्रेंच अॅनियन सूप या कोई बेस्वाद सा सूप पीने को कहा जाता है. इसमें बीच में एक समूचा गाजर और दो आलू रखे जाते हैं. वर-वधू को यह सूप पूरा पीना पडता है. इसी तरह की कोई दूसरी बेमेल सी डिश भी उन्हें परोसी जाती है और वे इसे गले से नीचे उतारने पर मजबूर किए जाते हैं. शादी के अगले दिन पार्टी होती है. रविवार को नवदंपती दोस्तों के साथ पिकनिक मनाते हैं.

पोलैंड : वोदका की खातिर

पोलैंड में शादी तो सादगी के साथ चर्च में होती है, लेकिन घर लौटने के बाद असल रस्में शुरू होती हैं. नवदंपती मेहमानों के सामने नृत्य करते हैं. कई युगल इसके दिन के लिए पहले से रिहर्सल करते हैं. शादी की पार्टी काफी मजेदार होती है. कुछ रोचक गीत गाए जाते हैं, जिनका अर्थ होता है कि अब आजादी छिन गई और गुलामी के दिन आए, घर के सारे काम खुद करने के दिन आए.. दुलहन अपना नकाब और दूल्हा बो जैसी कुछ चीजें दोस्तों, भाई-बहनों की तरफउछालते हैं. जो लडका या लडकी पहले इन्हें लपक लेते हैं, माना जाता है कि अगली बार शादी की तैयारी उन्हीं को करनी है. अब बारी आती है वर-वधू के जूते-सैंडिल बेचने की. दो जोडी शूज को चार लोग मिल कर बेचते हैं. इनसे मिली राशि से वोदका की बोतल खरीदी जाती है. लेकिन नियम है कि हर किसी के पास कम से कम दो बोतल वोदका हो. पैसे कम पडने पर इसके लिए उन्हें नृत्य-संगीत, कूदने-फांदने, आवाजें निकालने या चुटकुले सुनाने जैसे कई फरमाइशी काम करने होते हैं. अंत में वोदका से भरे गिलास हाथ में लेकर लोग चियर्स करते हैं और वर-वधू को उनके सुखी दांपत्य के लिए बधाइयां देते हैं. इसके साथ ही नवदंपती अपना वेडिंग केक काटते हैं.

रूस : असली दूल्हा-नकली दुलहन

रूसी विवाह के चिह्न हैं- दो गोल्डन रिंग्स. उनके आमंत्रण पत्रों में ये चिह्न बने होते हैं. अमूमन दो दिन तक चलती है रूसी शादी. वधू के घर तक पहुंच कर वर को प्रवेशद्वार पर तब तक रोका जाता है, जब तक कि वह उपहार, पैसे या वोदका नहीं देता. इसके बाद भी वधू के मायके वाले संतुष्ट नहीं होते तो वे नाटक रचते हैं. वर के सामने एक लडकी को दुलहन के लिबास में लाकर खडा कर देते हैं. नेट से चेहरा ढका होने के कारण दूल्हा उसे नहीं पहचानता. इस बार उसे दुलहन का मुंह देखने के लिए कुछ और उपहार देने होते हैं. शादी के बाद वर-वधू अन्य संबंधियों के साथ शहर के ऐतिहासिक स्थलों का भ्रमण करते हैं. इसमें फोटोग्राफी अहम होती है. इसके बाद शादी की पार्टी होती है. पहला टोस्ट वर-वधू द्वारा एक-दूसरे के मुंह में डाला जाता है. जैसे ही वे एक-दूसरे को खिलाते हैं, मौजूद मेहमान गोरको, गोरको, गोरको.. चिल्लाने लगते हैं. इसका अर्थ होता है कि उन्हे तीखी-कसैली वाइन चाहिए. दूसरा टोस्ट माता-पिता का होता है और फिर सभी मेहमान खाना खाते हैं. खाने के बाद होता है नवदंपती का नृत्य. रूसी शादी में परंपरागत ढंग से एक व्यक्ति को खेल, डिस्को या संगीत आयोजित करने के लिए रखा जाता है. एक और खेल होता है दुलहन के अपहरण का. इसमें दूल्हे के दोस्त दुलहन को छिपा देते हैं और दूल्हा वधू को ढूंढता है. रूसी शादी में रोने को शुभ नहीं माना जाता है, लिहाजा यहां विदाई के समय भी कोई नहीं रोता.

कुछ और मजेदार रिवाज

1. डेनमार्क में दुलहन के घर के सामने पाइन की शाखों का आर्च तैयार किया जाता है, जो वंशवृद्धि का प्रतीक होता है. पार्टी के समय दूल्हा गायब हो जाता है, ताकि सभी लडके दुलहन को किस कर सकें. इसके बाद दूल्हे को भी वहां मौजूद सारी लडकियां किस करती हैं और ऐसे समय में दुलहन गायब हो जाती है.

2. स्वीडन में दुलहन की मां अपनी बेटी को सोने का सिक्का देती है और उसके दाहिने जूते में रखती है. पिता उसे चांदी का सिक्का देते हैं जो उसके बाएं जूते में रखा जाता है. यह इस बात का प्रतीक होता है कि उनकी बेटी कभी आर्थिक परेशानी से न घिरे. दूल्हा अपनी दुलहन को तीन अंगूठियां भेंट करता है. एक सगाई की, दूसरी शादी की और तीसरी भविष्य में मातृत्व केलिए.

3. फिजी में दूल्हा वधू के पिता को व्हेल का दांत उपहार स्वरूप देता है.

4. स्कॉटलैंड में मजेदार रिवाज है कि दूल्हा अपनी पीठ पर पत्थरों से भरी एक बडी सी टोकरी लेकर गांव के एक छोर से दूसरे छोर तब तक घूमता रहता है, जब तक कि दुलहन आकर उसे किस न कर दे.

5. टर्की में दुलहन की सहेलियां उसकी सैंडिलों के किनारे और नीचे अपने-अपने नाम लिखती हैं. जिस भी लडकी का नाम पहले मिट जाता है, माना जाता है कि उसकी ही शादी पहले होगी.

Find US on

This Website is Developed by Saajan Verma "Sanjay"
© 2013-2014 www.SagaaiSeVidaaiTak.in. All Right Reserved.
Powered By :